20 लाख लोगों को AI की फ्री ट्रेनिंग देगा अमेजन, कॉलेज स्टूडेंट्स भी सीखेंगे गुर, कमा सकेंगे 47% ज्यादा सैलरी

Amazon Free Ai Courses:HN/ आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के बाजार में आने के बाद कंपनियां भी अब AI से दक्ष लोगों को नौकरी पर रखना चाहती हैं. हलाकि वर्तमान में बेहद कम लोगों को AI की जानकारी है. इसी को देखते हुए ई-कॉमर्स वेबसाइट अमेजन ने 2025 तक वैश्विक स्तर पर 2 मिलियन लोगों को मुफ्त एआई कौशल प्रशिक्षण और शिक्षा प्रदान करने के लिए एक नई पहल ‘एआई रेडी’ लॉन्च करने की घोषणा की है. ये कार्यक्रम विभिन्न प्रकार के संसाधनों की पेशकश करेगा, जिसमें 8 मुफ्त एआई और जेनरेटिव एआई कोर्स शामिल हैं. इसके अलावा कंपनी स्कॉलरशिप और विभिन शैक्षिक प्लेटफार्मों के साथ कोलेबरेशन भी करेगी. यानि कॉलेज में पढ़ रहे बच्चों को भी कंपनी AI के गुर सिखाएगी.

बता दें, अमेजन की तरह ही गूगल भी AI कोर्सेस की ट्रेनिंग दे रहा है.

ट्रेनिंग के बाद पा सकेंगे 47% ज्यादा सैलरी 

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, ‘एआई रेडी’ वर्कप्लेस में एआई कौशल की बढ़ती मांग की प्रतिक्रिया है. एडब्ल्यूएस के एक अध्ययन में पाया गया कि 73% एम्प्लॉयर एआई कौशल वाले श्रमिकों की तलाश कर रहे हैं और एआई कौशल वाले कर्मचारी अपने गैर-एआई समकक्षों की तुलना में 47% अधिक वेतन कमा सकते हैं. यानि AI से दक्ष लोगों को आम लोगों की तुलना में 47 ज्यादा सैलरी मिलने के चांस हैं.

AWS में डेटा और AI के उपाध्यक्ष स्वामी शिवसुब्रमण्यम ने कहा कि AI हमारी पीढ़ी की सबसे परिवर्तनकारी तकनीक है. अगर हम दुनिया की सबसे चुनौतीपूर्ण समस्याओं से निपटने के लिए एआई की पूरी क्षमता का उपयोग करना चाहते हैं, तो हमें एआई शिक्षा को सीखने की इच्छा रखने वाले किसी भी व्यक्ति के लिए सुलभ बनाना होगा.अमेजन का “एआई रेडी” पहल वर्तमान प्रोफेशनल्स और अगली पीढ़ी के श्रमिकों दोनों को लक्षित करेगा. करंट प्रोफेशनल्स के लिए, कार्यक्रम मुफ्त 8 नए एआई पाठ्यक्रम प्रदान करेगा.

इस AI रेडी प्रोग्राम में बेसिक से लेकर एडवांस्ड और व्यापारिक नेताओं के साथ-साथ प्रौद्योगिकीविदों तक के पाठ्यक्रमों में सभी के लिए कुछ न कुछ है.  ये पाठ्यक्रम AWS के माध्यम से प्रदान किए गए 80+ निःशुल्क और कम लागत वाले AI और जेनरेटिव AI पाठ्यक्रमों और संसाधनों को आम लोगों तक बढ़ाते हैं.

कोर्स के लिए कंपनी कर रही 12 मिलियन डॉलर का निवेश

अमेजन और अमेजन वेब सर्विसेज (एडब्ल्यूएस) वैश्विक स्तर पर 50,000 से अधिक हाई स्कूल और विश्वविद्यालय के छात्रों को स्कॉलरशिप, मुफ्त पाठ्यक्रम और कोडिंग कार्यक्रम प्रदान करने के लिए 12 मिलियन डॉलर से अधिक का निवेश कर रहे हैं. कंपनी का लक्ष्य AI और क्लाउड कंप्यूटिंग के बारे में सीखने में वंचित और कम प्रतिनिधित्व वाले समुदायों का समर्थन करना है. इस पहल के तहत जेनरेटिव एआई पर एक मुफ्त यूडेसिटी कोर्स, Code.org के सहयोग से ऑवर ऑफ कोड डांस पार्टी: एआई वर्जन नामक एक कोडिंग कार्यक्रम और 2025 तक लाखों लोगों को क्लाउड कंप्यूटिंग कौशल प्रशिक्षण प्रदान करने की प्रतिबद्धता शामिल है.

इस विषय में ज्यादा जानकारी आप (https://www.aboutamazon.com/news/aws/aws-free-ai-skills-training-courses) पर हासिल कर सकते हैं.

News: मथुरा-काशी में मंदिर तोड़े और बनाई गईं मस्जिदें… फिर सर्वे और कोर्ट की क्या जरूरत- इरफान हबीब

ज्ञानवापी मामले में कोर्ट के फैसले पर अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एवं प्रख्यात इतिहासकार इरफान हबीब का बयान सामने आया है. उन्होंने कहा कि

Read More »

MP News: जीतू पटवारी ने CM मोहन यादव सरकार को घेरा, शिक्षा व्यवस्था को लेकर पूछा यह सवाल

Jitu Patwari To CM Mohan Yadav:HN/ लोकसभा चुनाव से पहले पीसीसी चीफ जीतू पटवारी काफि एक्टिव नजर आ रहे हैं. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने

Read More »

MP News: सीएम मोहन यादव बोले- ‘सिंहस्थ मेला 2028 का आयोजन ऐसा होगा दुनिया देखती रह जाएगी’

Ujjain News:HN/ मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने शिप्रा नदी को सतत प्रवाहमान बनाए रखने के लिए एक अथॉरिटी बनाने का ऐलान किया है. इस

Read More »

Lok Sabha Elections 2024: क्या इस बार कमलनाथ का गढ़ भेद पाएगी BJP? कैलाश विजयवर्गीय ने छिंदवाड़ा के लिए दिया इस नेता का नाम

Madhya Pradesh Politics News:HN/ क्या मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) कमलनाथ (Kamal Nath) के गढ़ छिंदवाड़ा (Chhindwara) से लोकसभा का

Read More »

चौधरी परिवार फिर से चौथी बार बीजेपी के करीब, 27 साल में RLD का होगा 10वां गठबंधन

त्तर प्रदेश की सियासत में आरएलडी प्रमुख जयंत चौधरी के सामने अपने बाप-दादा की सियासी विरासत को बचाने की चुनौती है. ऐसे में जयंत चौधरी

Read More »

वाह रे बिहार का शिक्षा विभाग! 12 साल से शेर को बाघ पढ़ा रहे थे स्कूल में, ऐसे हुआ खुलासा

बिहार में कुछ न कुछ अजीब मामले सामने आते रहते हैं. कभी यहां से ट्रेन का इंजन तो कभी पुल गायब हो जाता है. ताजा

Read More »

ब्रज में इस पेड़ को राधा रानी ने आखिर क्यों दिया श्राप? आज तक भी नहीं पकते हैं जिसके फल

वृंदावन में हर साल लाखों की संख्या में भक्त भगवान कृष्ण के मंदिरों के दर्शन के लिए दूर-दूर से आते हैं. भगवान श्रीकृष्ण के हर

Read More »