अल्पेश की नस्लीय टिप्पणी: ‘मोदी मेरी तरह काले थे, करोड़ों के विदेशी मशरूम खाकर हुए गोरे’

गांधीनगरगुजरात में दूसरे चरण की वोटिंग से ठीक पहले अब मशरूम का मुद्दा आ गया है. हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए अल्पेश ठाकोर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर नस्लीय टिप्पणी की है. अल्पेश ठाकोर ने कहा है कि पहले नरेंद्र मोदी मेरी तरह काले थे, लेकिन बाद में उन्होंने करोड़ों के विदेश मशरुम खाए और गोरे हो गए. अल्पेश का ये बयान कांग्रेस पर भारी पड़ सकता है.

मोदी को गुजराती नहीं ताइवानी खाना पसंद- अल्पेश

दरअसल एक चुनावी सभा में कांग्रेसी नेता अल्पेश ठाकोर ने ताइवान के खास किस्म के मशरूम के बहाने मोदी पर टिप्पणी की. अल्पेश ठाकोर ने कहा मोदी गुजराती खाने को पसंद नहीं करते हैं और ताइवानी मशरूम खाना पसंद करते हैं. मोदी के गोरे रंग के पीछे 80 हजार रुपये का मशरूम है और मोदी हर रोज पांच मशरूम खाते हैं. यानि रोजाना चार लाख के मशरूम में मोदी के गोरेपन का राज छिपा है.

हर महीने 1 करोड़ 20 लाख के मशरूम खाते हैं मोदी- अल्पेश

अल्पेश ने कहा, ”जब उन्होंने उस आदमी से पूछा कि मोदी जी कब से ये इम्पोर्टेड मशरूम खा रहे हैं? तो उसने बताया कि चीफ मिनिस्टर बनने के बाद से ही. मैंने मोदी की 35 साल पुरानी फोटो देखी है. वो मेरे जैसे काले थे इतने गोरे कैसे हो गए, लाल टमाटर जैसे. समझ लो, जो प्राइम मिनिस्टर हर दिन 4 लाख के मशरूम खा जाते हैं, हर महीने 1 करोड़ 20 लाख के मशरूम खा जाते हैं, उन्हें ये रोटी-चावल नहीं अच्छा लगेगा. वो तो सिर्फ दिखावा है.”

तेजेन्दर बग्गा ने ट्वीट किया वीडियो

पीएम मोदी पर अल्पेश की नस्लीय टिप्पणी से बीजेपी आग बबूला हो गई. बीजेपी नेता तेजेन्दर बग्गा ने ताइवान की एक महिला का वीडियो ट्वीट किया, जिसमें वो ताइवान में गोरा बनाने वाले मशरूम के खुलासे को सिरे से खारिज कर रही है.

पीएम मोदी को गुच्छी मशरुम पसंद

आपको बता दें कि पीएम मोदी को मशरूम काफी पसंद है और मोदी जिस प्रजाति के मशरूम को सबसे ज्यादा पसंद करते हैं उसे गुच्छी कहा जाता है और वो ताइवान में नहीं बल्कि हिमालय के पहाड़ों पर पाया जाता है. इसकी कीमत भी करीब 10 हजार रुपये प्रति किलो होती है और एक किलो में काफी मशरूम आ जाता है.

अब अल्पेश ठाकोर ने ये टिप्पणी महज चुटकी के लिए की या फिर उनके पास कोई ठोस सबूत है ये तो पता नहीं, लेकिन इस तरह प्रधानमंत्री के रंग पर बयान देकर वो बुरे फंसते दिख रहे हैं.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *