SA vs IND: हार के बाद 3D ने बढ़ा दी साउथ अफ्रीका की मुश्किल, इतिहास रचने मैदान में उतरेगा भारत

SOUTH AFRICA vs INDIA 3rd ODI MATCH PREVIEW:

साउथ अफ्रीका के खिलाफ भारत ने दौरे की शुरुआत केपटाउन के न्यूलैंड्स से की थी. जर्सी और फॉर्मेट बदलने के बाद दोनों टीम एक बार फिर इसी मैदान पर लौटी है लेकिन इस बार भारत का पलड़ा काफी मजबूत है. टेस्ट सीरीज में उसे भले 2-1 से हार मिली हो लेकिन वनडे में स्थिति बदली हुई है और भारत ने पहले दोनों वनडे अपने नाम किए हैं.

टीम का हाल और प्रदर्शन देखने के बाद कहा जा सकता है कि भारत मजबूत दिख रहा है. बुधवार को खेले जाने वाले तीसरे वनडे को जीतकर टीम इंडिया छह मैचों की सीरीज में उस स्थिति में पहुंचना चाहेगी जहां से उसे सीरीज में कोई झटका न लगे.

3D ने बढ़ा दी साउथ अफ्रीका की मुश्किल

दो वनडे हारने के बाद साउथ अफ्रीकी फिलहाल सीरीज में मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. सीरीज से पहले दिग्गज बल्लेबाज एबी डीविलियर्स चोट के कारण बाहर हुए तो पहले वनडे के बाद कप्तान फाफ डूप्लेसिस सीरीज से बाहर हो गए. मेजबान टीम के लिए मुश्किलों का सिलसिला यहीं नहीं थमा और दूसरे वनडे के बाद विकेटकीपर बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक भी वनडे और टी 20 सीरीज से बाहर हो गए.

स्पिन जोड़ी के आगे बेबस

एक तरफ जहां मेजबान टीम अपने दिग्गजों के चोट से परेशान है तो बाकी टीम भारतीय स्पिन जोड़ी के सामने बेबस है. कलाई के सहारे गेंद को स्पिन कराने वाले युजवेन्द्र चहल और चाइनामैन कुलदीप यादव ने अफ्रीकी पिच पर स्पिन को वो नजारा पेश किया है जिससे हर कोई हैरान है. दोनों ने दो मैच में अफ्रीका के 13 बल्लेबाजों को अपना शिकार बनाया हैय स्पिन से परेशान टीम ने मुकाबले से पहले जम कर स्पिन गेंदबाजी को नेट पर खेला.

भारत के पास इतिहास रचने का मौका

डरबन और सेंचुरियन में खेले गए पहले दो वनडे में लक्ष्य का पीछा करते हुए टीम ने शानदार जीत दर्ज की अब टीम के पास इतिहास रचने का मौका है. साउथ अफ्रीका में बायलेटरल सीरीज में इससे पहले भारतीय टीम कभी भी दो से अधिक वनडे नहीं जीत पाई है. मेहमान टीम ने 1992-90 में सात मैचों की सीरीज 2-5 से गंवाई थी जबकि 2010-11 में भारत 2-1 की बढ़त बनाने के बाद पांच मैचों की सीरीज 2-3 से हार गया था. लेकिन मौजूदा भारतीय टीम के स्तर को देखते हुए अगर इतिहास दोहराया जाता है तो यह टीम इंडिया के लिए बड़ी त्रासदी की तरह होगा.

टीम में बदलाव

क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने डी कॉक के विकल्प के तौर पर किसी को टीम में शामिल नहीं किया है और ऐसे में हेनरिक क्लासेन के डेब्यू करने की संभावना है. उनका होम सीजन अच्छा गुजरा था. साउथ अफ्रीका को उम्मीद है कि अगर मौका मिलता है तो क्लासेन हाशिम अमला के साथ मिलकर टीम को अच्छी शुरुआत दिला पाएंगे. हालांकि उन्हें भारत के कलाई के स्पिनरों युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव का सामना करने का मौका नहीं मिला है. कप्तान ऐडन मार्करम भी पारी की शुरुआत करने उतर सकते हैं. मिडिल ऑर्डर को मजबूत करने के लिए साउथ अफ्रीका अनुभवी बल्लेबाज फरहान बेहरदीन को प्लेइंग इलेवन में उतार सकता है. ऐसे में संभव है कि खायेलिहले जोंडो को बाहर बैठना पड़े. दूसरी तरफ टीम खराब फॉर्म से जूझ रहे डेविड मिलर को बाहर करके बेहरदीन और जोंडो दोनों को मैदान पर उतारे. दूसरी तरफ भारतीय टीम तीसरे वनडे में भी बिना बदलाव के मैदान पर उतरे.

टीमें इस प्रकार हैं: –

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, दिनेश कार्तिक, केदार जाधव, महेंद्र सिंह धोनी, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, अक्षर पटेल, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और शार्दुल ठाकुर.

साउथ अफ्रीका: एडेन मार्करम (कप्तान), हाशिम अमला, जेपी डुमिनी, इमरान ताहिर, डेविड मिलर, मोर्ने मोर्कल, क्रिस मारिस, लुंगी एनगिडी, एंडिले फेहलुकवायो, कागिसो रबादा, तबरेज शम्सी, खायेलिहले जोंडो, फरहान बेहरदीन और हेनरिक क्लासेन.

 

समय: मैच भारतीय समयानुसार शाम साढ़े चार बजे शुरू होगा

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *